वजह-बेवजह:-Krishna

  वजह-बेवजह

जरूरी है कि हर काम का एक वाज़िब वजह हो,
औऱ गुंजाइशें भी रहें कि कुछ तो बेवजह हो !

मतलब हो जिंदगी का, जीने की वजह हो !
मतलबी न हो रिश्ते, भले ही खोने-पाने की वजह हो !
कद्र हो आँसुओ की, रोने के लिए वजह हो !

जिंदादिली हो दिल में, हँसना-मुस्कुराना बेवजह हो !
गीत तो बिखरे पड़े हैं जहाँ में, भंवरा बन गुनगुनाना बेवजह हो !
कीमत हो हर बात की,चुप्पी ही बेहतर जब कहना-सुनना बेवजह हो!

By Krishna

FOLLOW ON INSTAGRAM:-KRISHNA

टिप्पणियां

Click On Beloww for RS.444

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

India Rejects LIC IPO LIC Strike

World Water Day 22, March. #waterday #worldwaterday #water

Scam 1992: The Harshad Mehta Story// Indian Story