Posts

एक सुहागन- एक विधवा By मानसी || मै सुहागन हूँ || सुहागन मरना चाहती हूँ || सुहागन के लिए महिलाओं ने रखा ||Hindi Kavita#writers

किराए का कमरा By- भास्कर कविश || किराये का कमरा || किराए की खोज का परिणाम || मैं किराए के कमरे में बैठकर, महल ...||Hindi Kavita #writers

नदी By शिवम पाण्डेय || नदियों पर कवितायेँ || Poem The River - नदी हूँ मैं || नदी पर छोटी कविता ||Hindi Kavita#writers

'कविता' By अजय ⁣|| Hindwi: Hindi Kavita || हिंदी कविता Hindi Kavita || कविता कोश || Hindi Kavita#writers

विश्वास रखो By दिशा जैन || Viswas Rakho || विश्वास पर शायरी सुविचार || कमियां भले ही हजारों हो तुममें ||Hindi Kavita#writers

एक न एक दिन By नमिता गुप्ता "मनसी" || एक-न-एक दिन / तरुण - कविता कोश || Ek Din - एक दिन || मैं ने माना एक न इक दिन लौट के तू आ ||Hindi Kavita #writers

तुझ तक पहुँचे उस मंज़िल का नाम क्या है Byमनु शर्मा || Tere Ishq Mai Yara || “तुझ तक पहुँचे जो राह मैं हर उस || ग़ज़ल/ग़ज़लें साहिर लुधियानवी || Hindi Kavita#writers

दर्पण By Sejal goswami || Man Ka Darpan - मन का दर्पण || Darpan - दर्पण || प्रवासी कविता : दर्पण हूं मैं... || Hindi Kavita #writers

अकेलापन खाता जा रहा है लोगों को By शक्ति बवेजा || अकेलापन बहुत ख़तरनाक है या बेहद || क्या है अकेलापन, लक्षण || अकेलेपन की समस्या से जूझता समाज ||

बस तुम By Akanksha pandey || Bas Tum Ho || 'Tum' poems || Aur bus tum ||Hindi Kavita #writers

बीत गया हूं, मैं By दीक्षा झा || बीत गया बचपन || काव्य तरंग: साझा काव्य संग्रह || Doosari Shuruaat || Hindi Kavita #writers

संवाद कविता By संगम रघुवंशी || संवाद की कविता || संवाद होना चाहिये - Amar Ujala Kavya || कविता-संवाद || Hiritersndi Kavita #writers

नारियल की टहनियों से By धैर्य || प्यारे नारियल || नारियल की खेती || Hindi Kavita #writers

मानवता अभी बाकी है By मयूरी राजेंद्र पाटिल || HL Community news - मानवता अभी बाकी है || मानवता के साथ जुड़ाव की पहल कर || अभी मानव में मानवता जिंदा ...||Hindi Kavita #writers

एक लड़की को हमेशा गलत माना जाता है By मानसी || लड़की ही हर बार गलत क्यों || लड़कियों को प्यार के लिए कैसे || प्यार || Hindi Kavita#writers

दुनिया || By विनीत कुमार शाक्य || सफलता के लिए प्रेरणादायक विचार || 200 सर्वश्रेष्ठ अनमोल वचन अनमोल || Hindi kavita#writers

प्रेम की चौखट पर खड़ी स्त्री By Apurwa Srivastava || पुल पर औरत - कविता || Woman (महिला) || Hindi Kavita || #writrers #poetry

कुछ गम दिये संसार ने By कान्हा जी || किसी के गम को भुलाना है आज || Babul KI Duayen / बाबुल की दुआएँ लेती जा ...|| कहानी कफ़न | Virtual Hindi ||Hindi Kavita#writers

मृगनयनी By विनीत || Mragnayani - मृगनयनी - Amar Ujala Kavya || तुम मृगनयनी / भगवतीचरण वर्मा ...|| वो मृगनयनी शोख हसीना। मोहक रंगों ...|| Hindi Kavita#writers

सुनों कविताओं By नमिता गुप्ता || Suno! Meri Kavita Mat Padhna! - सुनो! मेरी || The Most Viral Hindi Poetry - ये हैं हिन्दी की ...|| Suno Kavita - Google || Hindi Kavita#writers

Smile By Krishna Kant Sen ||Smile Poem - Inspirational Words of Wisdom || #smile poems - Hello Poetry || When You Smile. {poetry} || Rebelle Society ||#writers

देव मनुज तो बनना होगा By स्व श्री जगदीश चंद्र पाटनी || देव मनुज तो बनना होगा | NIVEDITA PATNI || Hindi Kavita #writers

डॉक्टर By सुंदरम् || डॉक्टर पर कविताएँ || Hindi Kavita For Doctors || डॉक्टर्स डे पर कविता 2020 ... - CleanStudy || Hindi Kavita#writers

लौट रही हैं कविताएं By नमिता गुप्ता ||बहारें लौट आयी हैं / जनार्दन राय ||कोलाहल जीवन का कुछ थमा-थमा सा है ...|| लौटने की कोई जगह नहीं || Hindi Kavita#writers

वैश्या By Ishika Agrawal || Social Issues - वेश्यावृत्ति || वेश्यावृत्ति छोड़ने के लिए मदद ...|| देह व्यापार : ये है इन बदनाम ...||

मेरे शब्दों का अस्तित्व By Gaurav Gandhi ||Shabdon Ka Astitva || शब्दों का अस्तित्व ||मेरे शब्द - मेरा अस्तित्त्व ...उसके अस्तित्व को दिया अपने ... || Hindi Kavita #writers

भारत में कोरोना By डॉ हिमांशु शेखर ||भारत में कोरोना वायरस से ||कोरोना वायरस || कोरोना वायरस पर हिन्दी में नया ...||Hindi Kavita#writers

थोड़ा सा आदमी By नमिता गुप्ता || थोड़ा सा … एक आदमी मुझे मिला - कविता || हिन्दवीThodaASa Ujaala || Hindi Kavita#writers

Phir Se Muskurayenge By अतुल आनंद ||मुश्किल दिन बीत जाएंगे||हम फिर ...Kuch Din Aur || Hindi Kavita#writers

Free Now